Thursday, February 29, 2024
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडखाद्य विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में व्यवस्थाओं पर नाराज हुईं खाद्य मंत्री...

खाद्य विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में व्यवस्थाओं पर नाराज हुईं खाद्य मंत्री रेखा आर्या, बैठक में अधिकारीयों को लगाई फटकार

नई टिहरी:  खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले की मंत्री श्रीमती रेखा आर्या नई टिहरी दौरे पर रहीं। जहां खाद्य विभाग द्वारा नवीन सुविधाजनक (पी.वी.सी.)राशनकार्ड के वितरण कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में मुख्यातिथि के तौर पर खाद्य मंत्री रेखा आर्या शामिल रहीं। कार्यक्रम को सुभारम्भ करते हुए जिला पूर्ति अधिकारी अरुण वर्मा ने टिहरी जिले में प्रचलित राशनकार्ड और वितरित राशनकार्ड के बारे में जानकारी दी।उन्होंने बताया कि जिले में अभी तक 143979 राशनकार्ड प्रचलित है जिसमे से 84279 राशकार्डो को वितरित किया जा चुका है।

व्यवस्थाओ से नाराज हुईं मंत्री तो जिला पूर्ति अधिकारी को लगाई फटकार

- Advertisement -

कार्यक्रम के शुरुवात में खाद्य मंत्री रेखा आर्या व्यवस्थाओं से नाखुश दिखीं जिसपर उन्होंने जिला पूर्ति अधिकारी को जमकर फटकार लगाई । खाद्य मंत्री ने नाराजगी जताते हुए कहा कि यह कोई समीक्षा बैठक नही आहूत की जा रही है जिसे की हम बंद कमरे में कर रहे हैं। यह आम जनता के लिए कार्यक्रम है ,इस कार्यक्रम से आम व्यक्ति को लाभ पहुंचना है ऐसे में इस कार्यक्रम को किसी अन्य जगह पर किया जाना उचित रहता। खाद्य मंत्री ने जिलापूर्ति अधिकारी को आगे से इस तरह की घटना को दोबारा ना दोहराए जाने की चेतावनी दी।

अपने संबोधन में खाद्य मंत्री रेखा आर्या ने आम जनता का धन्यवाद ज्ञापित किया। मंत्री महोदया ने कहा कि उनके द्वारा “अपात्र को ना व पात्र को हां”अभियान चलाया गया जिसका की पूरे प्रदेश में हर किसी ने सराहना की। मंत्री महोदया ने कहा कि 30 जून तक चले इस अभियान में अभी तक 91 हजार से अधिक राशनकार्ड सरेंडर हो चुके हैं जिन्हें की अब पात्र व्यक्तियों को बाटे जाने का कार्य शुरू किया जाएगा।

मंत्री रेखा आर्या ने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि टिहरी जिले में अभी तक जितने कार्ड सरेंडर किये जा चुके हैं उन्हें सर्वप्रथम इन तरह से वितरित किया जाए कि जिस गांव के व्यक्ति का कार्ड सरेंडर हुआ है तो उस कार्ड को उसी गांव के पात्र व्यक्ति को दिया जाए। यदि उस गाँव मे कोई पात्र व्यक्ति नही है तब अन्यत्र दिया जाए।

खाद्य मंत्री रेखा आर्या ने बॉयोमेट्रिक के बारे में कहा कि पहाड़ी जनपदों में राशन ना मिलने की शिकायते मिलती रहती हैं जिसमे नेटवर्क के ना होने,अंगूठे का सही मिलान ना होना भी शामिल हैं। इस दशा में जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया गया है कि संबंधित राशन डीलरों को ऑफ लाइन माध्यम से राशन का वितरण सुनिश्चित किया जाए। खाद्य मंत्री रेखा आर्या ने बताया कि “अपात्र को ना और पात्र को हां” अभियान के तहत 30 जून 2022 तक अंत्योदय अन्न योजना के 7899,प्रथमिक परिवार के 56,788 एवं राज्य खाद्य योजना के 26,890 सहित कुल 91,577 राशनकार्ड सरेंडर हुए हैं

यह भी पढ़े:http://LDA के उपाध्यक्ष के आदेशों को ताख पर रख कर जेई व एई करवा रहे है अवैध निर्माण 

RELATED ARTICLES
Advertismentspot_imgspot_img
Advertismentspot_imgspot_img

Most Popular