Thursday, February 29, 2024
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
spot_imgspot_img
Homeउत्तराखंडदेहरादून: सेंट्रल बैंक के तीन अधिकारियों ने ग्राहक से ठगे तीस लाख...

देहरादून: सेंट्रल बैंक के तीन अधिकारियों ने ग्राहक से ठगे तीस लाख रुपए, STF ने किया गिरफ्तार

देहरादून: देहरादून पुलिस ने (सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया) में इकतीस लाख के साइबर फ्रॉड में तीन लोग गिरफ्तार हुए हैं। दिल्ली से शाखा प्रबंधक को गिरफ्तार किया गया है। इसके साथ ही देहरादून से दो सहायक शाखा प्रबंधक भी अरेस्ट किए गए हैं। देहरादून निवासी शख्स के बैंक खाते को एक्सेस करके 31 लाख की रकम निकाली गई थी, जिससे अमेजन पर ऑनलाइन सोना खरीदकर रकम को ठिकाने लगाया गया था। एसटीएफ उत्तराखंड ने इसका खुलासा किया है। दरअसल, ये बैंक कर्मचारी ग्राहकों के बैंक खातों में SMS अलर्ट नंबर बदल कर उनकी मेहनत की कमाई उड़ा रहे थे। हर्रबटपुर थाना विकासनगर निवासी अतुल कुमार शर्मा (पुत्र स्व0 श्री रामस्वरुप शर्मा) ने देहरादून साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन को एक शिकायत दी। उन्होंने बताया कि सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया में उनकी मां के संयुक्त बैंक खाता से उनकी अनुमति के बगैर SMS अलर्ट नंबर बदलकर 30.95 लाख रुपये धोखाधड़ी से निकाले गये हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए साइबर थाने से निरीक्षक त्रिभुवन रौतेला के नेतृत्व में टीम गठित की गई। जानकारी मिलने के बाद साइबर क्राइम पुलिस की विशेष टीम तत्काल दिल्ली, एनसीआर, यूपी और हरियाणा रवाना हुई। टीम ने 23 मई को करोल बाग दिल्ली से घटना में शामिल सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया बैंक प्रबंधक को गिरफ्तार किया। आरोपी से पूछताछ में पता चला कि उसके दो और सहयोगी हैं जो सेंट्रल बैंक में ही काम करते हैं। इनमें से एक AFO मो। आजम और दूसरा बैंक का सहायक प्रबंधक कविश डंग है। बाकी दोनों अभियुक्तों को सेलाकुई व विकासनगर देहरादून से गिफ्तार किया गया है। आरोपियों के पास से लिनोवा लैपटॉप, सैमसंग टैब, 6 मोबाइल फोन, 7 सिम कार्ड, 14 एटीएम कार्ड, 2 आधार कार्ड, 5 पासबुक, 3 चेक बुक, 2 आरसी/डीएल और 1 पेन कार्ड बरामद हुए हैं।

यह भी पढ़े: http://Gyanvapi Masjid case: ज्ञानवापी मामले पर केन्द्रीय मंत्री बघेल बोले- काशी को भगवान शिव ने बसाया

RELATED ARTICLES
Advertismentspot_imgspot_img
Advertismentspot_imgspot_img

Most Popular