Saturday, May 18, 2024
Homeउत्तराखंडAAP ने मध्य प्रदेश के 26 मारे गए तीर्थ यात्रियों को प्रदेश...

AAP ने मध्य प्रदेश के 26 मारे गए तीर्थ यात्रियों को प्रदेश कार्यालय में दी श्रद्धांजलि

देहरादून: आज आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रदेश कार्यालय में एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया, जिसमें यमुनोत्री जा रहे मध्य प्रदेश के 26 मारे गए तीर्थ यात्रियों की आत्मा की शांति के लिए दुआएं की गई और श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रदेश संगठन समन्वयक जोत सिंह बिष्ट ने मारे गए श्रद्धालुओं को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि ,कोविड के बाद यात्रा खुली हुई है और सरकार को यह मालूम था की यात्रा में इतने अधिक श्रद्धालु आएंगे ,लेकिन सरकार द्वारा किसी भी तरह की व्यवस्था दुरुस्त नहीं की गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्था दुरुस्त न होने से और सड़कें ठीक ना होने से यहां आ रहे यात्री काल के मुंह में समा रहे हैं , जिसकी सीधी जिम्मेदार सरकार है। उन्होंने कहा की अभी तक चार धाम यात्रा के दौरान मौतों का आंकड़ा डेढ़ सौ के पार हो चुका है ,जो बहुत ही गंभीर विषय है।

- Advertisement -

उन्होंने यह भी कहा कि ,मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री को यहां दौड़ना नहीं पड़ता अगर यहां की सरकार सड़कों को दुरुस्त करती गाड़ियों की फिटनेस से लेकर सड़क किनारे पैराफीट बनाने और सड़कों को सुधारने पर विचार करती। वही गढ़वाल मीडिया प्रभारी रविंद्र आनंद ने इस मौके पर कहा कि, ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो इसके लिए सरकार को गंभीर होना होगा ।हम सरकार से मांग करते हैं कि तुरंत ऐसे मामलों का गंभीरता पूर्वक संज्ञान ले।

उन्होंने कहा कि, यात्रियों की संख्या अधिक होने से कई जगह पंजीकरण ना होने के चलते यात्रियों को दिक्कतें हो रही हैं ।उनके रहने खाने की कोई व्यवस्था नहीं है। डिहाइड्रेशन की समस्या ज्यादा हो रही है। चार धाम की यात्रा में कई जगह फर्स्ट एड सेंटर्स नहीं है ,बैठने के इंतजाम नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार को इन मूलभूत सुविधाओं पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। उन्होंने ये भी कहा कि पर्यटन मंत्री और प्रभारी मंत्री यात्रा को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं, इसलिए आम आदमी पार्टी यह मांग करती है कि मुख्यमंत्री चार धाम यात्रा को गंभीरता से लेते हुए खुद ही इनकी मॉनिटरिंग करें, ताकि ऐसे दुखद हादसे दोबारा प्रदेश में ना हो।

यह भी पढ़े: http://चारधाम यात्रा: इस वर्ष तीर्थयात्रियों की अधिक मृत्यु होना का क्या है कारण

RELATED ARTICLES

Most Popular