Saturday, May 18, 2024
Homeराजनीति10 साल में 5 लाख लोगों का पलायन गम्भीर विषय, रोजगार नहीं...

10 साल में 5 लाख लोगों का पलायन गम्भीर विषय, रोजगार नहीं होने के चलते पलायन करने को मजबूर हैं युवा: AAP

 देहरादून: आम आदमी पार्टी (AAP) मीडिया प्रभारी ने एक बयान जारी करते हुए प्रदेश से लगातार हो रहे पलायन पर गहरी चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में बीते 10 सालों में 5 लाख लोगों का पलायन होना अपने आप में गंभीर विषय है ,जो सरकार की पलायन को रोकने के लिए लापरवाही को दर्शाता है। उत्तराखंड में पलायन इसलिए हो रहा है क्योंकि यहां पर लोगों के पास रोजगार नहीं है जिसके चलते यहां पर बेरोजगारी लगातार बढ़ रही है और लोगों को अपनी रोजी रोटी के लिए पलायन करने को मजबूर होना पड़ता है।

- Advertisement -

AAP मीडिया प्रभारी ने कहा कि प्रदेश से 42% युवाओं का पलायन करना अपने आप में गंभीर मामला है जिनकी उम्र 26 से 35 वर्ष के बीच है। उन्होंने बताया कि यह आंकड़े ग्राम्य विकास एवं उत्तराखंड पलायन आयोग द्वारा पंचायतों में सर्वे के आधार पर निकाले गए आंकड़े हैं। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी दर उत्तराखंड में लगातार बढ़ रही है और यह पलायन का मुख्य कारण है। बीते 5 सालों में बेरोजगारी की दर लगातार प्रदेश में बढ़ी है जिससे पलायन लगातार जारी है।

उन्होंने कहा कि इन आंकड़ों के लिए भाजपा की सरकार जिम्मेदार है क्योंकि उन्होंने जनता और युवाओं से खोखले वादे किए। उन्होने कहा कि बीजेपी सरकार ने प्रतिवर्ष 2 करोड़ युवाओं को नौकरी देने की बात की थी लेकीन वो वादे झूठे साबित हुए। इन्ही वादों से निराश होकर युवाओं को पलायन के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सिर्फ युवाओं के साथ खिलवाड़ करने का काम करती है और युवाओं को वोट बैंक समझते हुए राजनीति करती है। सरकार को चाहिए कि अपने वादों को पूर्ण करते हुए युवाओं को रोजगार देने का काम करें तभी पहाड़ों से पलायन रुक पाएगा।

यह भी पढ़े: http://चारधाम यात्रा: चारों धामों में बारिश शुरू हुई सड़क मार्गों में कहीं-कहीं भूस्खलन जोन सक्रिय लेकिन यात्रा जारी

RELATED ARTICLES

Most Popular